Monday, January 30, 2023
Home Tags Supriya Saboo

Tag: Supriya Saboo

मात्र 5 हजार में शुरू किया था बिजनेस, आज करोड़ों में...

कहते हैं ना - लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती,कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती ~ सोहन लाल द्विवेदी (Sohan Lal...

Offers & Deals

Don't miss the opportunity the save your hard-earned money. We are providing the best exclusive offers and deals for you only.  Click on the store's...

मोस्ट व्यूड

गोदान – पुस्तक-समीक्षा

लेखक  - मुंशी प्रेमचंद  मुंशी प्रेमचंद का मूल नाम धनपतराय था। उनका जनम ३१ जुलाई, १८८0  में बनारस के लमही गाँव में हुआ। उनकी साहित्य-रचना में कुल ३२० कहानियाँ और...

गोदान(Godan) – भाग 6

जेठ की उदास और गर्म सन्ध्या सेमरी की सड़कों और गलियों में पानी के छिड़काव से शीतल और प्रसन्न हो रही थी। मंडप के...

गोदान(Godan) – भाग 5

उधर गोबर खाना खाकर अहिराने में पहुँचा। आज झुनिया से उसकी बहुत-सी बातें हुई थीं। जब वह गाय लेकर चला था, तो झुनिया आधे...

गोदान(Godan) – भाग 4

होरी को रात भर नींद नहीं आयी। नीम के पेड़-तले अपनी बाँस की खाट पर पड़ा बार-बार तारों की ओर देखता था। गाय के...

गोदान(Godan) – भाग 3

होरी अपने गाँव के समीप पहुँचा, तो देखा, अभी तक गोबर खेत में ऊख गोड़ रहा है और दोनों लड़कियाँ भी उसके साथ काम...

10वीं तक पता नहीं था फिल्में क्या होती है, आज हिंदी...

बॉलीवुड की चमक-दमक से भरी दुनियाँ में वही पहुंच पाते हैं जिनके या तो माता-पिता फ़िल्मी स्टार हों या वे जो बहुत ही संपन्न...

गोदान(Godan) – भाग 1

होरीराम ने दोनों बैलों को सानी-पानी देकर अपनी स्त्री धनिया से कहा -- गोबर को ऊख गोड़ने भेज देना। मैं न जाने कब लौटूँ।...